अगले डेढ़ साल में देश में 10 लाख लोगों की लगेगी सरकारी नौकरी

नई दिल्ली: पीएम नरेंद्र मोदी की अगले डेढ़ साल में 10 लाख सरकारी नौकरियों की घोषणा के बाद सभी विभाग और मंत्रालय अपने यहां रिक्तियों की संख्या घोषित करने की तैयारी में जुट गई है। पीएम ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा था कि उनकी सरकार मिशन मोड में 10 लाख नौकरियां देंगी। गौरतलब है कि रेलवे समेत कई विभागों में लाखों पद खाली हैं। 

केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने 3 फरवरी और 30 मार्च को संसद में एक सवाल के जवाब में मंत्रालय और विभागवार रिक्तियों की संख्या बताई थी। 
केंद्र सरकार के अनुसार, केंद्रीय मंत्रालयों और विभागों में 1 मार्च 2020 तक 8.72 लाख पद रिक्त हैं। इसमें 21,255 पद ग्रुप ए समूह के हैं। 98,842 पद ग्रुप बी के हैं और 7.56 लाख पद ग्रुप सी के हैं। मंत्रालयों में भी लाखों पद खाली हैं। सिविल डिफेंस में 2.47 लाख, रेलवे में 2.37 लाख, गृह मंत्रालय में 1.28 लाख, डाक विभाग में 90,050 पद, इंडियन ऑडिट एंड अकाउंट्स डिपार्टमेंट में 28,237 पद खाली हैं। गौरतलब है कि सभी सरकारी विभागों में स्वीकृत पदों की कुल संख्या 40.05 लाख है।
रेलवे मंत्रालय ने शुरू कर दी तैयारी
रेल मंत्रालय ने 1.48 लाख पदों को भरने के लिए तैयारी शुरू कर दी है। इन स्थायी कर्मचारियों की नियुक्ति 2023 दिसंबर तक पूरी होने की उम्मीद है। गौरतलब है कि सभी रेलवे जोन में 2.98 लाख पद रिक्त हैं। एक अधिकारी ने बताया कि रेलवे में हर साल नियुक्तियों का औसत 43,600 है। 
किस विभाग में कितने पद खाली
सिविल डिफेंस- 2.47 लाख
रेलवे- 2.37 लाख
गृह मंत्रालय- 1.28 लाख
डाक विभाग- 90,050 हजार
इंडियन ऑडिट एंड अकाउंट्स डिपार्टमेंट- 28,237 हजार
परमाणु ऊर्जा विभाग में 5,274 पद खाली हैं। विदेश विभाग में 2,204 पद खाली। 
कार्मिक और लोक शिकायत और पेंशन विभाग में 2,375 रिक्तियां हैं। विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग में 8,227 पद खाली हैं। 
अंतरिक्ष विभाग में 2,688 और जल संसाधन, नदी विकास गंगा में 4,557 पद खाली हैं।
अधिकारियों ने बताया कि तकनीकी स्टाफ की नियुक्ति में थोड़ा वक्त लगेगा लेकिन बाकी सारी प्रक्रियाएं डेढ़ साल में पूरी हो जाएंगी।



    



Top