यूपी के विधानपरिषद चुनाव में 36 में भाजपा को 33 सीटें, सपा शून्य पर सिमटी:वाराणसी में बाहुबली बृजेश की पत्नी जीतीं

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में विधान परिषद चुनाव के नतीजे आ चुके हैं। भाजपा को विधान परिषद में स्पष्ट बहुमत मिला है।  36 सीटों में से 9 पर भाजपा ने पहले ही निर्विरोध जीत हासिल कर ली थी। 9 अप्रैल को 27 सीटों के चुनाव नतीजों में ‌बीजेपी ने 33 सीटों पर जीत हासिल की है। 2 सीटें निर्दलीय प्रत्याशियों के हिस्से गई हैं।वहीं एक सीट पर जनसत्ता दल को जीत मिली है।
 इस चुनाव में मुख्य विपक्षी दल सपा का सूपड़ा साफ हो गया है। वहीं, बसपा और कांग्रेस ने इस चुनाव में प्रत्याशी ही नहीं उतारे थे।
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि स्थानीय प्राधिकारी निर्वाचन क्षेत्र के चुनाव में बीजेपी की मनमानी और धांधली की सभी हदें पार हो गई. बीजेपी ने लोकतंत्र को कुचलने का काम किया है उसके लिए बीजेपी को इतिहास कभी माफ नहीं करेगा.
दूसरों को जातिवादी बताने वाली बीजेपी की ये सच्चाई है कि एमएलसी चुनाव की 36 सीटों में से कुल 18 पर मुख्यमंत्री जी के स्वजातीय जीते हैं. एस.सी.-एस.टी., ओबीसी को दरकिनार कर ये कैसा सबका साथ, सबका विकास ? सामाजिक न्याय को लोकतंत्र के जरिए मजबूत करने की लड़ाई समाजवादी लड़ते रहेंगे.

परिणाम: कहां से कौन जीता
सीट                  जीते                        पार्टी            लखनऊ-उन्नाव रामचंद्र प्रधान         भाजपा                जौनपुर          बृजेश सिंह प्रिंसू     भाजपा               देवरिया-कुशीनगर रतनपाल सिंह   भाजपा 
 मेरठ-गाजियाबाद धर्मेंद्र भारद्वाज भाजपा 
रायबरेली दिनेश प्रताप सिंह भाजपा                आगरा-फिरोजाबाद विजय शिवहरे भाजपा 
आजमगढ़-मऊ विक्रांत सिंह निर्दलीय             गाजीपुर विशाल सिंह चंचल भाजपा             वाराणसी अन्नपूर्णा सिंह निर्दलीय                   सीतापुर पवन सिंह चौहान भाजपा                    बस्ती सुभाष यदुवंश भाजपा                           इटावा-फर्रुखाबाद प्रांशुदत्त द्विवेदी भाजपा 
बाराबंकी अंगद कुमार सिंह भाजपा                  बलिया रविशंकर सिंह पप्पू भाजपा                गोरखपुर सी पी चंद भाजपा                            झांसी-जालौन-ललितपुर रमा निरंजन भाजपा
 प्रयागराज के पी श्रीवास्तव भाजपा             सुल्तानपुर शैलेन्द्र प्रताप सिंह भाजपा         मुरादाबाद-बिजनौर सत्यपाल सिंह सैनी भाजपा
अयोध्या हरिओम पाण्डेय भाजपा                 प्रतापगढ़ अक्षय प्रताप सिंह जनसत्ता दल 
बहराइच-श्रावस्ती प्रज्ञा त्रिपाठी भाजपा 
गोंडा अवधेश कुमार सिंह भाजपा                     रामपुर-बरेली कुंवर महाराज सिंह भाजपा 
कानपुर-फतेहपुर अविनाश सिंह चौहान भाजपा पीलीभीत-शाहजहांपुर डॉ. सुधीर गुप्ता भाजपा मुजफ्फरनगर-सहारनपुर वंदना मुदित वर्मा भाजपा

एमॢएलसी चुनाव में पूर्वांचल के बाहुबलियों की बादशाहत बरकरार, 
वाराणसी में भाजपा की करारी हार
वाराणसी सीट पर बाहुबली बृजेश सिंह की पत्नी अन्नपूर्णा देवी ने बीजेपी के सुदामा पटेल को चुनाव हरा दिया है। सुदामा पटेल यहां तीसरे नंबर पर आए हैं। बृजेश सिंह इस समय जेल में हैं।वाराणसी से बृजेश कुनबे की लगातार 5वीं जीत
बहराइच-श्रावस्ती से भाजपा की प्रज्ञा त्रिपाठी ने जीत दर्ज की है।
आजमगढ़ में बीजेपी से निष्कासित एमएलसी यशवंत सिंह के बेटे विक्रांत सिंह ने बीजेपी प्रत्याशी अरुणकांत यादव को चुनाव हरा दिया है।
फिलहाल 100 सदस्यीय विधान परिषद में उसके 37 सदस्य हैं। एमएलसी चुनावों में आमतौर पर देखा गया है कि सत्ता में बैठे पार्टी को इसका फायदा मिलता है। साल 2017 में बीजेपी की 15 साल बाद सत्ता में वापसी हुई, लेकिन पांच साल सत्ता में रहने के बाद भी उसे विधान परिषद में बहुमत नहीं मिल सका। इससे पहले भी भाजपा राज्य में सत्ता में रही, लेकिन उच्च सदन में कभी बहुमत का आंकड़ा हासिल नहीं कर पाई।


Top