नवादा विधि महाविद्यालय के नए भवन में सुभाष चंद्र बोस की जयंती मनी
बंटी पाण्डेय की रिपोर्ट
नवादा विधि महाविद्यालय के नए भवन सनोख रा मे महाविद्यालय के सभागार में विधि महाविद्यालय के प्रिंसिपल डॉ डिअर मिश्रा के नेतृत्व में सुभाष चंद्र बोस की जयंती प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी विनम्रता पूर्वक मनाई गई वही विधि महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ डीएन मिश्रा ने सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर प्रकाश डालें और लोगों को सुभाष चंद्र बोस की जयंती के बारे में विस्तृत जानकारी दिए सुभाष चंद्र बोस ने सच्चे देशभक्त थे अपने देश के लिए प्राण निछावर कर दिए सुभाष चंद्र बोस का नारा था तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आजादी दूंगा आजादी के समय अपने नारा को सुभाष चंद्र बोस ने अपनी आवाज को बुलंद किया और इस नारा को लेकर आजादी की लड़ाई में सुभाष चंद्र बोस ने कूद पड़े और भारत को आजादी दिलाएं इनकी भूमिका अहम थी आजादी के समय से आज तक भी सच्चे देशभक्त के नाम से जाने जाते हैं आने वाला समय में भी लोगो इन्हें नमन करेंगे उन्हीं सभी लोग जयंती के अवसर पर लोगों ने सुभाष चंद्र बोस अमर रहे अमर रहे के नारे से विधि महाविद्यालय का वातावरण गुंज उठा इस मौके पर सभी महाविद्यालय के कर्मचारियों ने सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया तथा कई वक्ताओं ने सुभाष चंद्र बोस के बारे में अपने बातों रखा इस मौके पर प्रोफ़ेसर अनिल कुमार चौरसिया प्रोफ़ेसर श्याम किशोर प्रोफेसर डीओपी हिमांशु प्रोफेसर शिवकुमार प्रोफ़ेसर कौशल कुमार झारखंड विधि महाविद्यालय झुमरीतिलैया व्याख्याता श्री अमरनाथ पांडे सोसाइटी सदस्य प्रोफेसर मिराज अंसारी प्रोफेसर सतीश कुमार वेदव्यास पांडे महेश मिश्रा इंदु भूषण मिश्रा बालमुकुंद पांडे राजू मिश्रा संतोष कुमार कुंदन कुमार सुनील कुमार मिश्रा कल्पना कुमारी सुषमा देवी समेत सभी महाविद्यालय के परिवार मौजूद थे
Top