शहबाज़ शरीफ सोमवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बनेंगे,कश्मीर का मुद्दा उठाया
पाकिस्तान के पंजाब  प्रांत के तीन बार सीएम रह चुके पूर्व पीएम  नवाज शरीफ के छोटे भाई शहबाज़ शरीफ ने प्रधानमंत्री बनने से पहले ही कश्मीर का मुद्दा उठाया है. 
पाकिस्तान मुस्लिम लीग (एन) के नेता शहबाज़ शरीफ ने  कहा है कि हम भारत के साथ शांति चाहते हैं, जो कश्मीर विवाद के समाधान होने तक संभव नहीं है. शहबाज़ शरीफ सोमवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बनने वाले हैं.  इमरान खान भी अपने कार्यकाल के दौरान कश्मीर का राग अलापते रहते थे. 

पाकिस्तान के 22वें प्रधानमंत्री इमरान खान को शनिवार को  अविश्वास प्रस्ताव के जरिए पद से हटाया गया है और वह पाकिस्तान के इतिहास में अविश्वास प्रस्ताव के जरिए हटाए गए पहले प्रधानमंत्री बन गए हैं. उन्होंने 18 अगस्त 2018 को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद की शपथ ली थी. उनका 10 अप्रैल 2022 तक 1,332 दिनों का कार्यकाल रहा. क्रिकेटर से नेता बने खान तीन साल सात महीने और 23 दिन तक प्रधानमंत्री पद पर रहे, जो महीनों के हिसाब से करीब 43 महीने और 23 दिन का समय है. मौजूदा सदन का कार्यकाल अगस्त 2023 तक का है. 
342 सदस्यीय नेशनल असेंबली में अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान के दौरान समाजवादी, उदारवादी और कट्टर धार्मिक दलों के संयुक्त विपक्ष को 174 सदस्यों का समर्थन मिला था, जो प्रधानमंत्री को सत्ता से बाहर करने के लिए जरूरी संख्याबल यानी 172 से अधिक था. पाकिस्तान के इतिहास में आज तक किसी भी प्रधानमंत्री ने पांच साल का कार्यकाल पूरा नहीं किया है.


Top