ऑस्ट्रेलिया पहली बार बना टी-20 चैंपियन,न्यूजीलैंड  8 विकेट से हारा

टी-20 विश्व कप 2021 के फाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड को 8 विकेट से हरा दिया और विश्व कप ट्रॉफी अपने नाम की। यह ऑस्ट्रेलिया का पहला टी-20 खिताब है। इससे पहले वह पांच बार वनडे विश्व कप और दो चैंपियंस ट्रॉफी जीत चुके हैं। ऑस्ट्रेलिया ने पहली बार फाइनल खेल रही न्यूजीलैंड की टीम को एकतरफा मुकाबले में हराया।   टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए न्यूजीलैंड की टीम ने 20 ओवर में चार विकेट खोकर 172 रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया ने 173 रन बनाकर मैच जीत लिया।

सिक्के ने भी ऑस्ट्रेलिया के कप्तान एरॉन फिंच का साथ दिया और उन्होंने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए न्यूजीलैंड ने 20 ओवर में चार विकेट गंवाकर 172 रन बनाए। टीम की ओर से कप्तान केन विलियमसन को छोड़कर कोई बल्लेबाज नहीं चला। विलियमसन ने 48 गेंदों पर 85 रन की पारी खेली। 

इसके अलावा 35 गेंदों पर 28 रन, डेरिल मिचेल 11 रन, ग्लेन फिलिप्स 18 रन बना सके। इसके अलावा जेम्स नीशम 13 रन और टिम सीफर्ट 8 रन बनाकर नाबाद रहे। ऑस्ट्रेलिया की ओर से जोश हेजलवुड ने सबसे ज्यादा तीन विकेट और एडम जाम्पा ने एक विकेट लिया।
विलियमसन ने टी-20 अंतरराष्ट्रीय करियर का 14वां और इस टूर्नामेंट में पहला अर्धशतक लगाया।
विलियमसन की 85 रन की पारी टी-20 विश्व कप के फाइनल में किसी भी कप्तान की सबसे बड़ी पारी रही।
मिचेल स्टार्क ने अपने चार ओवर में बिना कोई विकेट लिए 60 रन खर्च किए। वह टी-20 विश्व कप फाइनल के इतिहास के सबसे महंगे गेंदबाज रहे।
न्यूजीलैंड का 172 रन का स्कोर किसी भी टी-20 विश्व कप फाइनल का सबसे बड़ा स्कोर रहा।

जवाब में ऑस्ट्रेलिया की शुरुआत खराब रही। कप्तान एरॉन फिंच पांच रन बनाकर ट्रेंट बोल्ट की गेंद पर आउट हुए। हालांकि, इसके बाद डेविड वार्नर और मिचेल मार्श ने पारी संभाली और दूसरे विकेट के लिए 59 गेंदों पर 92 रन की साझेदारी कर डाली। वार्नर ने टी-20 करियर की 21वीं फिफ्टी लगाई। उन्होंने फाइनल में छक्के के साथ अर्धशतक पूरा किया। वे 38 गेंदों पर 53 रन बनाकर आउट तो हुए, लेकिन अपना काम कर दिया था। 

वार्नर को ट्रेंट बोल्ट ने क्लीन बोल्ड किया। इसके बाद मिचेल मार्श टिक गए और उन्होंने टी-20 अंतरराष्ट्रीय करियर की छठी फिफ्टी लगाई। वार्नर की तरह उन्होंने भी छक्के के साथ फिफ्टी पूरी की। उन्होंने 31 गेंदों पर फिफ्टी लगाई, जो कि किसी भी विश्व कप फाइनल की सबसे तेज फिफ्टी है। इससे पहले यह रिकॉर्ड केन विलियमसन के नाम था। उन्होंने भी 2021 फाइनल में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 32 गेंदों पर फिफ्टी लगाई थी।

मार्श ने मैक्सवेल के साथ मिलकर तीसरे विकेट के लिए 63 रन की नाबाद साझेदारी की और टीम को चैंपियन बनाया। मार्श 50 गेंदों पर 77 रन और मैक्सवेल 18 गेंदों पर 28 रन बनाकर नाबाद रहे। न्यूजीलैंड की ओर से बोल्ट ने दो विकेट लिए।
डेविड वार्नर ने टी-20 अंतरराष्ट्रीय करियर का 21वां अर्धशतक लगाया।
वार्नर ने इस विश्व कप में 289 रन बनाए। यह किसी भी ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी का टी-20 विश्व कप में सबसे बढ़िया प्रदर्शन रहा।
मार्श ने 31 गेंदों पर अर्धशतक लगाया, जो टी-20 विश्व कप फाइनल का सबसे तेज अर्धशतक रहा।


Top