बिहार में 9 जून से  लॉकडाउन खत्म करने का निर्णय लिया गया ,रात्रि कर्फ्यू जारी रहेगा
बिहार में 9 जून से  लॉकडाउन खत्म करने का निर्णय लिया गया है। रात्रि कर्फ्यू जारी रहेगा। क्राइसिस मैनेजमेंट कमिटी की बैठक के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्वीट कर यह जानकारी दी।

मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर बताया कि लाॅकडाउन से कोरोना संक्रमण में कमी आई है। अतः लाॅकडाउन खत्म करते हुये शाम 7ः00 बजे से सुबह 5ः00 बजे तक रात्रि कर्फ्यू जारी रहेगा। 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ सरकारी एवं निजी कार्यालय 4ः00 बजे अपराह्न तक खुलेंगे। दुकान खुलने की अवधि 5ः00 बजे अपराह्न तक बढेंगी। आनलाईन शिक्षण कार्य किये जा सकेंगे। निजी वाहन चलने की अनुमति रहेगी। यह व्यवस्था अगले एक सप्ताह तक रहेगी। अभी भी भीड़भाड़ से बचने की आवश्यकता है।

नाईट कर्फ्यू में मिलेगी ये छूट

शाम 7:00 बजे से सुबह 5:00 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा। इस अवधि में राज्य सरकार ने कई जरूरी गतिविधियों को छूट प्रदान की है।घ स्वास्थ्य से जुड़ी गतिविधियों में संलग्न वाहन एवं स्वास्थ्य में प्रयुक्त निजी वाहन को छूट मिली है। वहीं जरूरी कार्यों से संबंधित कार्यालयों के सरकारी वाहन, वन प्रबंधन में लगे वाहन, वैसे निजी वाहन जिन्हें जिला प्रशासन द्वारा किसी विशेष कार्य हेतु ईपास निर्गत है, सभी प्रकार के मालवाहक वाहन, वैसे निजी वाहन जिनमें हवाई जहाज ट्रेन के यात्री यात्रा कर रहे हो और उनके पास टिकट हो. ड्यूटी पर जाने को लेकर सरकारी सेवकों एवं अन्य सेवाओं के निजी वाहनों को छूट मिलेगी .अंतर राज्यीय मार्गों पर अन्य राज्यों को जाने वाले निजी वाहन को छूट मिलेगी। निजी वाहनों के परिचालन तथा पैदल आवागमन पर नाइट कर्फ्यू की अवधि को छोड़ कोई प्रतिबंध नहीं होगा। सार्वजनिक एवं निजी वाहनों में सभी के लिए मास्क पहनना अनिवार्य होगा। ऐसा नहीं करने पर कार्रवाई की जाएगी. जिलों के डीएम स्थानीय परिस्थिति की समीक्षा कर इन प्रतिबंधों के अतिरिक्त अधिक सख्त प्रतिबंध लगा सकेंगे। किंतु किसी भी स्थिति में इन प्रतिबंधों को शिथिल नहीं करेंगे। सभी जिला पदाधिकारी वर्णित आदेशों के अनुपालन के लिए दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के अंतर्गत निषेधाज्ञा निर्गत करेंगे।

बिहार में कहीं आने-जाने के लिए ई-पास की जरूरत खत्‍म, हटीं कई पाबंदियां

स्‍कूल-कालेज फिलहाल बंद रहेंगे
लॉकडाउन खत्‍म कर दिया गया है लेकिन बच्‍चों की सुरक्षा को ध्‍यान में रखते सरकारी और गैर सरकारी शैक्षणिक संस्‍थानों को जुलाई तक बंद ही रखने का निर्णय लिया गया है। ये संस्‍थान ऑनलाइन शिक्षण कार्य कर सकेंगे। लॉकडाउन खत्‍म होने के साथ ही निजी वाहनों को भी चलाने की अनुमति दे दी गई। यह व्‍यवस्‍था अगले एक हफ्ते तक रहेगी। इसके बाद के हालात के आधार पर एक बार फिर विचार-विमर्श करके निर्णय लिया जाएगा। मुख्‍यमंत्री ने कोरोना के खतरों के मद्देनजर लोगों से अभी भी भीड़भाड़ से बचकर रहने की अपील की है। 
एक हफ्ते तक रहेगी ये व्‍यवस्‍था
सीएम नीतीश कुमार ने बताया है कि यह व्‍यवस्‍था अगले एक हफ्ते तक जारी रहेगी। 
डीएम को दी गई मानीटरिंग की जिम्‍मेदारी
लॉकडाउन खत्‍म होने के साथ ही कई पाबंदियां खत्‍म हो गई हैं लेकिन कोरोना प्रोटोकाल, सोशल डिस्‍टेंसिंग और अन्‍य नियमों का पालन कराने की जिम्‍मेदारी जिलाधिकारियों को दी गई है। प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों को इसमें सख्ती बरतने का निर्देश दिया गया है। इसके साथ ही डीएम कोरोना संक्रमण की स्थिति को देखते हुए अपने इलाके में सख्ती बरतने के साथ धारा 144 जैसे नियम लागू कर सकेंगे।
चार बार बढ़ाया जा चुका था लॉकडाउन
बिहार में पांच मई से लॉकडाउन लगा था। इसके बाद चार बार इसे बढ़ाया जा चुका था। लॉकडाउन-4 का समय आठ जून को खत्‍म हो गया। अब नौ जून से लॉकडाउन खत्‍म करने का निर्णय लिया गया है लेकिन नाइट कर्फ्यू जारी रहेगा
अनलॉक के बारे आज हुए प्रमुख निर्णय
सभी दुकानें सुबह 6 बजे से शाम 5 बजे तक खुलेंगी
नाइट कर्फ्यू शाम सात बजे से सुबह पांच तक लागू रहेगा।
बिहार में जुलाई तक शैक्षणिक संस्थान नहीं खुलेंगे
ऑनलाइन शिक्षण कार्य किये जा सकेंगे
दिन भर वाहनों के चलने पर कोई पाबंदी नहीं होगी
निजी वाहन चलाने की अनुमति दी गई
सार्वजनिक वाहन में 50 फीसद यात्री आ-जा सकेंगे
ई-पास की जरूरत नहीं होगी
रेस्टोरेंट सिर्फ होम डिलीवरी के लिए सुबह 9 से रात 9 तक खुलेंगे
50% उपस्थिति के साथ सभी कार्यालय खुलेंगे
सरकारी और निजी कार्यालय शाम 4 बजे तक खुलेंगे
शादी और श्राद्ध में 20 से अधिक लोगों के शामिल होने की छूट



Download Pdf
Top