ग्रैपलिंग कमिटि ऑफ बिहार की ऑनलाइन बैठक संपन्न

जिला ग्रैपलिंग कमिटियों को मान्यता 
ग्रैपलिंग कमिटि ऑफ इंडिया के निर्देशानुसार आज मोबाइल एप ज़ूम पर ग्रैपलिंग कमिटि ऑफ बिहार के राज्य व जिला के पदाधिकारियों के साथ ऑनलाइन बैठक हुई। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में ग्रैपलिंग कमिटि ऑफ इंडिया के महासचिव बिरजू शर्मा ने बैठक में शामिल पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि बिहार में ग्रैपलिंग खेल के विकास के लिए राष्ट्रीय स्तर से हर संभव मदद किया जायेगा। बिहार राज्य में ग्रैपलिंग खेल का तीव्र गति से विकास हो जिसके लिए राष्ट्रीय कमिटि विशेष ध्यान देगी। नवगठित ग्रैपलिंग कमिटि ऑफ बिहार के पदाधिकारियों के कार्यों की प्रसंशा करते हुए श्री बिरजू शर्मा ने विश्वास दिलाते हुए यह भी कहा कि जैसे हीं लॉकडाउन खत्म होगा बिहार के खिलाड़ियों के प्रशिक्षण के लिए प्रशिक्षक मुहैया करा दिया जायेगा। राष्ट्रीय प्रशिक्षक राज्य के विभिन्न जिलों के खिलाड़ियों को प्रशिक्षण देंगे। विशिष्ट अतिथि के रूप में बैठक को संबोधित करते हुए ग्रैपलिंग कमिटि ऑफ इंडिया के अनुसाशन समिति के चेयरमैन संजय राय ने कहा कि बिहार के निर्णायकों व प्रशिक्षकों के लिए अलग से तीन दिवसीय कार्यशाला आयोजित किया जायेगा। जिससे राज्य स्तर पर सभी प्रकार के प्रतियोगिताओं के आयोजन में मदद मिलेगी। तकनीकी रूप से राज्य के खिलाड़ियों,प्रशिक्षकों व निर्णायकों को मजबूत किया जायेगा। ऑनलाइन कार्यक्रम को विशेष रूप से संचालित करते हुए ग्रैपलिंग कमिटि ऑफ झारखंड के महासचिव प्रवीण सिंह ने राज्य के पदाधिकारियों को इस खेल की तकनीकी जानकारियां दी। कुश्ती के तरह हीं मैट पर होने वाले इस खेल में भी दोनों तरफ से समानांतर अंक बनता है। जितने समय तक एक-दूसरे खिलाड़ी को ग्रिप में लॉक कर रखेंगे उस हिसाब से अंक मिलते हैं। इसमें भी तकनीकी रूप से बाई व फॉल दिया जाता है।
     ग्रैपलिंग कमिटि ऑफ बिहार के उपाध्यक्ष किशलय किशोर ने बताया कि जून के प्रथम सप्ताह में निर्णायकों व प्रशिक्षकों का तीन दिवसीय ऑनलाइन प्रशिक्षण शिविर आयोजित किया जायेगा। अतिशीघ्र राज्य के सभी जिलों को राज्य कमिटि से मान्यता दे दिया जायेगा। लॉकडाउन समाप्त होने के उपरांत राज्यस्तरीय प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जायेगा। विशिष्ट अतिथि के रूप में ग्रैपलिंग कमिटि ऑफ असम के महासचिव विकास दत्त ने बैठक को संबोधित किया। 
  ग्रैपलिंग कमिटि ऑफ बिहार के ऑनलाइन मीटिंग में मुख्य रूप रूप से राज्य कमिटि की अध्यक्ष अनामिका पासवान,उपाध्यक्ष किशलय किशोर, उपाध्यक्ष पुष्कर देव,महासचिव गौरी शंकर, संयुक्त सचिव दीपक प्रकाश रंजन,निकेश कुमार निक्की,कोषाध्यक्ष रामा शंकर,सरोज चौधरी,सुधीर कुमार, कुमार आदित्य, दीपक कुमार,संतोष कुमार शर्मा, दीपक सिंह कश्यप, विकास कुमार,खुर्शीद आलम, विशाल सिंह, रवि रंजन कुमार,नौशाद आलम,अमर आहूजा,मनोज कुमार, अखिलेश कुमार, उमेश कुमार, बद्री यादव, इजहार आलम,सचिन कुमार,अंजली कुमारी, निशा कुमारी सहित 43 पदाधिकारियों ने भाग लिया। ऑनलाइन कार्यक्रम राज्य कमिटि के संयुक्त सचिव दीपक प्रकाश रंजन की देखरेख में संचालित हुआ।

Download Pdf
Top