सुशील कुमार मोदी बोले- कोरोना वैक्सीन पर शक पैदा करने वाले लोग भारत विरोधी टूलकिट का हिस्सा

पटना,18 जुलाई। पूर्व उप मुख्यमंत्री एवं सासंद सुशील मोदी  ने आज ट्वीट में कहा कि 
कोरोना वैक्सीन पर शक पैदा करने वाले लोग भारत विरोधी टूलकिट का हिस्सा हैअअं।
 सुशील कुमार मोदी ने कहा कि 
-लालू प्रसाद ने टीका नहीं लिया, बेटों को रास आयी विदेशी वैक्सीन ।
उन्होंने कहा कि भारत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में लगातार दूसरी बार बड़े और कड़े फैसले लेने वाली मजबूत सरकार बनने से जिन विदेशी ताकतों की छाती फट रही है, वे हमारे देश में सक्रिय एनजीओ, न्यूज पोर्टल और मुख्यधारा के कुछ विपक्षी नेताओं की फंडिंग कर अराजकता, अस्थिरता और भ्रम फैलाने का हेट इंडिया कंपेन चला रहे हैं। 
   सीएए, किसान आंदोलन और कोरोना महामारी के दौरान यह साफ हुआ कि कैसे सारी भारत-विरोधी शक्तियां अपने-अपने तरीके से एजेंडा चला रही हैं। 
  ताजा मामला न्यूजक्लिक नामक पोर्टल का है, जिसने भारतीय वैक्सीन को घटिया बताने का अभियान चलाया।
 ईडी की जांच में इस पोर्टल को विदेशों से 30 करोड़ की फंडिंग का पता चला। 
 अगर राहुल गांधी, अखिलेश यादव, लालू प्रसाद और ममता बनर्जी खालिस्तानी फंडिंग वाले किसान आंदोलन का समर्थन करते हैं , भारत में विकसित कोरोना वैक्सीन पर संदेह पैदा करने वाले बयान देते हैं और दुनिया में सबसे तेज टीकाकरण अभियान चला कर 40 करोड़ डोज लगवाने के लिए कोरोना योद्धाओं की सराहना न कर देश का मनोबल गिरा रहे हैंं, तो क्या  ये विपक्षी नेता भारत विरोधी अन्तरराष्ट्रीय टूल किट का हिस्सा नहीं हैं? 
   लालू प्रसाद ने अब तक कोरोना टीका नहीं लिया और राजद के राजकुमारों ने   जो टीका लिया वह स्पुतनिक-वी भारत में विकसित नहीं है।
  क्या ऐसा करने के पीछे कोई भारत विरोधी फंडिंग नहीं हो सकती? 
.................................

Download Pdf
Top