सेहत: वृद्धावस्था के लिए होम्योपैथिक में है कारगर इलाज

1-छात्र-परीक्षा के समय इतने घबरा जाते हैं कि दिमाग खाली खाली सा लगने लगता है ऐसी स्थिति में इथुजा 30,200एक एक बूंद सुबह शाम सेवन करे
2-छात्र -परीक्षा में घबराहट के कारण याद रहने पर भी एकाएक सबकुछ भूल जाना -एनाकार्डियम  30 एक बूंद तीन बार रोज लेना चाहिए।
3-एडवोकेट द्वारा मुकदमा में पैरवी के लिए घर से तैयारी करने के बावजूद न्यायालय में पहुंचते ही  सबकुछ भुल जाना पिकरिक एसिड 200 एक बूंद सुबह शाम लेना चाहिए।
3-वृद्धावस्था में स्मृति लोप  हो जाने के कारण बाजार से सामान तो खरीद लेते हैं पर थैला दुकान पर ही छोड़कर चले आते हैं ऐसी स्थिति में पिकरिक  एसिड 30 , एक बूंद सुबह शाम लेना चाहिए। बात- चित करते -करते भूल जाना अभी क्या कह रहे थे -कैनाविस इणिडका 30-एक बूंद तीन बार रोज लेना चाहिए।कभी - परिचित लोग, रास्ते सबकुछ भूल जाना ग्लोनाईन 30एक बूंद सुबह शाम लेना चाहिए। कभी- कभी घर से जिस काम‌के लिए निकला वह भूल गए कि किस काम से निकले हैं -सैनिक्यूला 30एक बूंद तीन बार रोज लेना चाहिए।
स्मरण शक्ति एकदम कमजोर ऐनाकार्डियम30, बैराइटा कार्ब 30 या प्लमबम मेटालिकम 30 
एक बूंद तीन बार रोज लेना।
 नोट- कोई भी दवा चिकित्सक की सलाह से ही इस्तेमाल करें।
      डॉ लक्ष्मी नारायण सिंह
       होमियोपैथी अस्पताल
       फतुहा, पटना (बिहार)
        मो9204090774

Download Pdf
Top